सरकार की दोहरी नीति एक तरफ पंचायत चुनाव का डंका बजा तो दुसरी तरफ धार्मिक जुलूस पे पाबंदी,

सरकार की दोहरी नीति एक तरफ पंचायत चुनाव का डंका बजा तो दुसरी तरफ धार्मिक जुलूस पे पाबंदी,

शांति,सौहार्दपूर्ण एवम भाईचारे के साथ कोरोना गाइड लाइन का पालन करते हुए मनाया जाएगा मोहर्रम पर्व एवम जनमाष्टमी, थाना अध्यक्ष

सभी प्रकार के जुलूस एवम डीजे प्रतिबंधित उलंघन करने वाले पर होगी कार्रवाई, थाना अध्यक्ष

मुजफ्फर आलम
नानपुर सीतामढ़ी

नानपुर थाना अध्यक्ष एजाज़ कौसर ने पुरे क्षेत्र में शांति,सौहाद्र एवम भाईचारे के वातावरण में मोहर्रम पर्व,जन्माष्टमी मनाने को लेकर प्रखंड के कौडिया रायपुर के समुदाय भवन में आयोजित शांति समिति की बैठक में भाग लिया। नानपुर थाना अध्यक्ष द्वारा शांति समिति की बैठक में उपस्थित लोगों से अपील किया गया कि इस बार भी ईद एवम बकरीद पर्व की भांति सभी लोग शांति,प्रेम एवम भाईचारे के साथ कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए मोहर्रम मनाए। थाना अध्यक्ष एजाज़ कौसर ने बैठक में उपस्थित सभी लोगों से कोरोनावायरस का टीका लगवाने का भी अपील किया।
समाजसेवी मुख्तार आलम ने कहा कि इस कोरोना काल में पंचायत चुनाव हो सकता है तो धार्मिक जुलूस पे पाबंदी क्यों? यह सरकार की दोहरी नीति कब तक चलेगी,
वहीं प्रमोद साह ने थाना अध्यक्ष एजाज़ कौसर से आग्रह किया कि रायपुर पंचायत से अति संवेदनशील जैसे शब्द को हटाया जाए,
आज से 5 साल पहले अनुमंडल पदाधिकारी पुपरी, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी पुपरी, अंचलाधिकारी नानपुर, प्रखंड विकास पदाधिकारी नानपुर की मौजूदगी में अनुमंडल पदाधिकारी ने कहा गया कि अगर इस पंचायत के अंदर हर पर्व में आपसी सौहार्द रहा तो इस पंचायत के शांति समिति को अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा, जो अब तक आश्वासन के बावजूद नहीं मिला,और नहीं शांति समिति के सभी सदस्य को आई कार्ड, इन सभी बातों को सुनते हुए नानपुर थाना अध्यक्ष एजाज़ कौसर ने कहा कि हम आपके सभी बातों को जिलाअधिकारी महोदय के सामने रखने का काम करुंगा

भावी प्रत्याशी जिला परिषद 36 से नुजहत जहां ने इस बैठक में प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं अंचलाधिकारी नानपुर के न आने पर सवाल उठाई, उन्होंने कहा कि आज प्रखंड में ज़मीनी सर्वेक्षण शुरू हुआ,पर रायपुर पंचायत के 70% लोगों का आज भी कर्मचारी के पास जमा बंदी फटा हुआ है उस का क्या होगा, कैसे कटेगी उन लोगों रसीद? आज रसीद कटवाने के नाम पे अच्छी खासी रकम वसूली जाती है जो निंदनीय है,
सर्वसम्मति से एक स्वर में कह की सरकार के दिशा निर्देशों के आलोक में ही मोहर्रम पर्व मनाया जाएगा।। मुखिया मीरा देवी, सरपंच पति प्रमोद साह, पंचायत समिति पति कूष्णा, मुख्तार आलम, जाकिर हुसैन, फिरोज अंसारी,शमशाद आलम,मजहर हुसैन, जियाउद्दीन, सद्दाम,काशी, सहित शांति समिति के सभी सदस्य आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *