Wed. Oct 27th, 2021

SDO के द्वारा बार-बार मुझे परेशान किया जाता है दूसरे पक्ष के तरफ से पैसा लेकर मुझ पर झूठा नोटिस निकाल देते हैं, रिजवान अहमद

कोट में मामला होने के बाद भी दो पक्षों में जमीन को लेकर हुई ताना तानी स्थल का निरीक्षण किया अंचलाधिकारी

SDO के द्वारा बार-बार मुझे परेशान किया जाता है दूसरे पक्ष के तरफ से पैसा लेकर मुझ पर झूठा नोटिस निकाल देते हैं, रिजवान अहमद

नुजहत जहां
मुजफ्फरपुर

शहर के काजी मोहम्मदपुर थाने के माडीपुर सेंट्रल बैंक के सामने दो पक्षों के बीच जमीनी विवाद की वजह से मुसहरी अंचलाअधिकारी और काजि मोहम्मदपुर थाना प्रभारी के नेतृत्व में घटनास्थल का निरीक्षण किया गया इससे पहले भी यह मामला जब दोनों पक्षों में बिगड़ा तो एख पक्ष कोट के शरण में गए वहां धारा 144 के बाद 145 भी लगा 145 लगने के बाद दूसरे पक्ष डायरेक्ट सिविल कोर्ट में टाइटल शुट किया
यह मामला मनौवर जहां पति रिजवान अहमद एवं शेख संजर के बीच है इस पर जो मुसहरी अंचलाअधिकारी की रिपोर्ट आई उसमें अस्पष्ट लिखा हुआ है के आवेदिका की भुमि में पुरब जानिब से 3 फिट चौड़ा एवं 85 फिट लम्बाई 3 धूर शेख संजर के दहल में है,

जब मामला कोर्ट में है तो किसी भी पक्ष को उस जमीन पे काम करने का अधिकार नहीं होता फिर भी दूसरे पक्ष के शेख संजर ने पैसे की ताकत पे काम चालू रखा और कोट को हमेशा गुमराह किया
यह मामला मनौवर जहां पति रिजवान अहमद एवं शेख संजर के बीच है इस पर जो मुसहरी अंचलाअधिकारी की रिपोर्ट आई उसमें अस्पष्ट लिखा हुआ है के आवेदिका की भुमि में पुरब जानिब से 3 फिट चौड़ा एवं 85 फिट लम्बाई 3 धूर शेख संजर के दखल में है,
मनौवर जहां पति रिजवान अहमद ने साल 2008 में खाता नंबर 19क,211 खेसरा नम्बर 94,95,96 से एक कठठा सवा छे धुर जमीन खरीदी,
दुसरे पक्ष ने भी खाता नंबर 19क,211 खेसरा नम्बर 94, 95, 96 से एक कठठा सवा तीन धुर जमीन साल 2004 में फिर शेख़ संजर ने उसी खाता खेसरा से एक कठठा दस धूर साल 2012 में खरिद किया
प्रथम पक्ष मनौवर जहां के दखल में खेसरा नम्बर 95, 96 से एक कठठा सवा दो धूर जमीन पर दखल है,
दुसरे पक्ष के मो महबूब को खेसरा नम्बर 95, 96 से एक कठठा सवा चार धूर एवं महबूब के पुत्र शेख़ संजर को खेसरा नम्बर 94,95 से एक कठठा सवा दस धूर जमीन पे काबिज़ है
पूर्व अंचलाधिकारी मुसहरी के पैमाईश संख्या,61/19,20 के रिपोर्ट से स्पष्ट है कि प्रथम पक्ष की महिला मनौवर जहां पति रिजवान की जमीन को दुसरे पक्ष के शेख संजर ने 3 धूर जमीन दखल कर रखा है
लेकिन जब मुसहरी अंचलाअधिकारी ने भुमि का निरीक्षण करने आए तो यह मामला जमीन से हटकर पानी निकासी का चला गया लेकिन प्रथम पक्ष मनौवर जहां के पति ने अपनी बात मजबूती के साथ अंचलाधिकारी के सामने रखते हुए बताया कि यह मामला कोर्ट में है तो उस पोजीशन में यह काम किस तरह कर सकता है और आपके ही पूर्व अंचलाधिकारी महोदय ने जब पैमाईश करवाई तो उनकी रिपोर्ट में स्पष्ट लिखा हुआ है के मेरी तीन धूर जमीन शेख़ संजर के कब्जे में है,
SDO मुजफ्फरपुर पे बहुत बड़ा सवाल खड़ा करते हुए कहा कि , SDO के द्वारा बार-बार मुझे परेशान किया जाता है दूसरे पक्ष के तरफ से पैसा लेकर मुझ पर झूठा नोटिस निकाल देते हैं,

एसके हॉल वेंकट के प्रोपराइटर द्वारा शिकायत की गई थी उनके बेसमेंट में वाटर लॉगिंग हो रहा है, उस कारण बगल में जो मकान है उनके द्वारा पाईप खोल दिया गया है रिसाव हल्का है देखने की आवश्यकता थी लेकिन पीछे में गेट बंद है इसका मतलब पूरा नहीं देखा जा सका फिर अगले दिन आ करके उसको देखा जाएगा
अंचलाधिकारी मुसहरी प्रखंड

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *